बॉयफ्रेंड ने घर आकर चोदा (Boyfriend Ne Ghar Akar Choda)

बॉयफ्रेंड ने घर आकर चोदा
(Boyfriend Ne Ghar Akar Choda)

मेरा नाम नेहा यादव है. मैं एक बार फिर अपनी नयी कहानी के साथ हाजिर हूँ. ये कहानी कुछ दिन पहले की है. मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी कहानी पसंद आएगी.
मैं एक साधारण लड़की हूँ लेकिन मेरा जिस्म बहुत आकर्षक है. मैं सबसे घुल मिल कर रहती हूँ. मेरी पड़ोस में बहुत सारी सहेलियां हैं और वो लोग भी मुझे पसंद करती हैं. मैं पड़ोस के लड़कों से भी बात करती हूँ. वैसे मेरे घर में किसी को नहीं पता है कि मैं पड़ोस में लड़कों से बात करती हूँ.

मैं अपनी सहेलियों के साथ रहते रहते लड़कों से फ्लर्ट करना सीख गयी हूँ. मुझे पहले लड़कों से बात करने में डर लगता था, लेकिन मेरी सहेलियां अपने बॉयफ्रेंड लोग से ठीक से बात करती हैं, तो मैं भी लड़कों से ठीक से बात करने लगी. मैं पहले लड़कों से बात करने में डरती थी.

मेरी सहेली की तरह मैं भी बॉयफ्रेंड बनाना चाहती थी और एक पड़ोस के लड़के से मेरी बात शुरू हो गयी. मैं और पड़ोस के लड़का में जम गई और हम दोनों अच्छे दोस्त बन गए. उसके बाद तो हम दोनों जल्द ही एक दूसरे के करीब आ गए. बहुत दिन तक हम दोनों ने नार्मल बातें ही की.

मेरी सहेलियां थोड़ी चालू थीं. वो लोग अपने बॉयफ्रेंड को अपने घर बुलाकर चुदवा लेती थीं. लेकिन मुझे अपने बॉयफ्रेंड को अपने घर बुलाकर चुदवाने से डर लगता था. मैं किसी होटल में जाने के लिए भी डरती थी.

मेरी कुछ सहेलियां पढ़ाई और जॉब करने के लिए मेरे शहर में किराये से कमरा लेकर रहती थीं. वे अपने कमरे में अपने बॉयफ्रेंड को बुलाकर चुदवा लेती थीं.

मैं और मेरी कुछ सहेलियां पढ़ने के साथ जॉब भी करती हैं. इसलिए हम लोग रोज एक दूसरे से मिलते हैं. हम एक दूसरे से बात करते हैं.

हम लोग जब भी फ्री रहते हैं, तो एक दूसरे से अपने अपने बॉयफ्रेंड की बातें करते हैं. मैं उन लोगों की चुदाई की बातें सुनती हूँ, तो मुझे भी अपने बॉयफ्रेंड से चुदवाने का मन करने लगता है.

मेरा बॉयफ्रेंड भी मुझसे कई बार बोल चुका है कि चलो होटल में चलते हैं. मैं होटल में नहीं जाना चाहती हूँ.. लेकिन अपने बॉयफ्रेंड के साथ सेक्स करना चाहती हूँ.

मेरे घर वाले कहीं जाते हैं तो वो लोग एक नौकरानी को मेरे साथ घर पर छोड़ देते है. वो मेरी देखभाल करने के लिए उसको रात रुकने के लिए घर छोड़ जाते हैं. उन मौकों पर वो शाम को मेरे घर आ जाती थी. इसलिए मैं अपने बॉयफ्रेंड को अपने घर बुलाकर चुदवा नहीं पाती हूँ.

मैं अपने बॉयफ्रेंड के साथ एक दो बार होटल में खाना खाने गयी थी. एक बार उसने मुझे अपने दोस्त से भी होटल में मिलवाया था. उस दिन मुझे लगा था कि शायद ये दोनों ही मुझे इसी होटल के किसी कमरे में ले जाकर चोदने का प्लान बना रहे हैं. तो मैं जल्दी ही उस दिन उस होटल से वापस आ गई थी. जबकि मुझे बाद में ये सोच कर बड़ा मजा आता रहा कि काश ये दोनों मुझे मिल कर चोद देते.

मैं जॉब करने जाती थी, तो उसी समय अपने बॉयफ्रेंड से भी मिल लेती थी. हम दोनों लोग अक्सर शाम को ही मिलते थे क्योंकि हम दोनों का घर नजदीक था. मैं घर से किसी को बिना बताये अपनी सहेली के साथ अपने बॉयफ्रेंड से मिलने के लिए चली जाती थी. मेरे बॉयफ्रेंड का दोस्त भी मुझसे कभी कभी बात करता था. मैं और मेरा बॉयफ्रेंड हम दोनों लोग जब भी मौका मिलता था, तो एक दूसरे से अकेले में मिल लेते थे.

एक बार मैं और मेरा बॉयफ्रेंड हम दोनों एक गार्डन में घूमने के लिए गए थे और वहीं पर हम दोनों लोग एक दूसरे को खूब किस किये. उस दिन हम दोनों के बीच ये पहले किस थे. मुझे उसके साथ किस करने में बड़ा हॉट लग रहा था.

एक दिन मैं अपने घर पर थी. मैं उस दिन ऑफिस नहीं गयी थी क्योंकि मेरे घर वाले कहीं बाहर जा रहे थे. उन लोगों को एक पार्टी में जाना था, तो मैं उन सबको छोड़ने के लिए रेलवे स्टेशन गयी. मैं उन लोगों को रेलवे स्टेशन छोड़ के आ गयी. मैं अपने घर में अकेली थी और शाम को नौकरानी भी आने वाली थी. मेरी नौकरानी घर का काम करने के लिए उस दिन शाम को आने वाली थी.

जैसा कि मैंने बताया कि मैं जिस दिन घर में अकेली रहती हूँ, तो वो रात को मेरे घर रुक जाती है. उस रात मैं अपने बॉयफ्रेंड से सेक्स करना चाहती थी. वो भी मुझे मेरे साथ सेक्स करना चाहता था. लेकिन इस नौकरानी के कारण मैं अपने बॉयफ्रेंड से रात में सेक्स नहीं कर सकती थी. साली रात को मेरे साथ ही रहती थी.

मैंने दिन में अपने बॉयफ्रेंड को कॉल करके बता दिया कि मैं अभी घर पर अकेली हूँ.

वो अपने ऑफिस से छुट्टी लेकर मेरे घर आ गया. वो मेरे घर आते हुए मेडिकल स्टोर से कंडोम खरीद कर लेकर आया था. मैंने उसको बता दिया था कि मैं कंडोम के साथ सेक्स करूंगी. उसने मुझे कॉल करके बताया कि उसने डॉटेड वाले कंडोम का पैकेट खरीद लिया है.

मैंने अपने घर में अच्छे से सब कुछ कर दिया और अपने बेडरूम का बिस्तर भी ठीक कर दिया. मेरा बॉयफ्रेंड कुछ देर के बाद आ गया. मैंने दरवाजा खोल कर उसे अन्दर खींच लिया ताकि कोई देख न ले.

उसके बाद मैंने उसको पीने के लिए एक गिलास पानी दिया और हम दोनों लोग एक दूसरे से बात करने लगे.

मेरा बॉयफ्रेंड बाहर से ही खाना लेकर आया था. हम दोनों ने खाना खाया. मैंने अपनी नौकरानी को कॉल करके बता दिया कि मैं कभी बाजार जा रही हूँ, जब मैं आ जाऊंगी तो तुमको फोन कर दूँगी तब तुम आ जाना.
क्योंकि मुझे नौकरानी से डर लग रहा था कि वो दिन में ही आ गयी, तो सब जान लेगी.
नौकरानी ने मुझसे बोला- ठीक है, मैं शाम को काम करने के लिए तभी आऊंगी.. जब आपका फोन आ जाएगा.

अब हम दोनों के पास पूरा दिन सेक्स करने के लिए था. हम दोनों एक दूसरे से बात करने के बाद आपस में किस करने लगे. मेरा बॉयफ्रेंड मुझे गले लगाकर किस कर रहा था. हम दोनों एक दूसरे के होंठों को चूस रहे थे. वो मेरे बाल को पकड़ कर मुझे अपनी तरफ खींच कर मेरी चूची को मेरी कमीज के ऊपर से दबा रहा था. हम दोनों एक दूसरे को किस करने के बाद कपड़े निकालने लगे. उसने मेरी कमीज और सलवार निकाल दी. इससे मैं एक ब्रा और पेंटी में हो गयी.

वो मुझे ब्रा और पेंटी में देख कर बोला- वाह तुम तो बहुत सेक्सी हो.
मैं उसकी इस बात से शर्मा गई और मैंने भी उससे कहा- तुम भी तो कम नहीं हो.

वो मेरे पूरे जिस्म को चाटने लगा. मेरी चूत से पानी निकलने लगा, जिससे मेरी पेंटी थोड़ी से भीग गयी थी. मेरी पेंटी को वो सूंघ रहा था और उसको मेरी चूत की खुशबू बहुत अच्छी लग रही थी. मेरी चूत को सूंघने के बाद वो मेरी चूत को पेंटी के ऊपर से ही सहलाने लगा. मैं कामुक हो गयी थी और सिसकारियां लेने लगी.

तभी मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरी ब्रा और पेंटी को निकाल दिया और मैं उसके सामने पूरी जन्मजात जैसी नंगी हो गयी. मैं लज्जा से अपनी चूची और चूत को छुपा रही थी, लेकिन मेरी चूचियां बहुत बड़ी हैं, इसलिए वो मेरे लाख कोशिशों के बावजूद भी छुप नहीं पा रही थीं.
बॉयफ्रेंड ने घर आकर चोदा (Boyfriend Ne Ghar Akar Choda)
बॉयफ्रेंड ने घर आकर चोदा (Boyfriend Ne Ghar Akar Choda)
मेरा बॉयफ्रेंड एकदम से कामुक हो उठा और मेरी एक चूची को दबाने लगा. मुझे उसकी हरकतों से चुदास चढ़ने लगी और मैंने अपना पूरा शरीर ढीला छोड़ दिया. उसने मुझे अपनी बाँहों में लेकर बिस्तर पर पटक दिया और मेरे ऊपर आकर मेरी चूची को दबाने और मसलने लगा. फिर वो मेरी एक चूची को चूसने लगा. हम दोनों ही लोग पूरे नंगे हो कर चुदाई के पहले के फोरप्ले में लगे थे.

हम दोनों एकदम से बेताबी से एक दूसरे के ऊपर आकर किस कर रहे थे. वो कभी मेरे ऊपर आकर मुझे किस कर रहा था, तो मैं कभी उसके ऊपर जाकर उसको किस कर रही थी.

वो कुछ देर मेरी चूची को चूसने के बाद मेरे कान की लौ को चाटने लगा. मैं कामुक हो गयी थी और चुदासी आवाजें निकाल रही थी. वो मेरे कान की लौ को चाटने के बाद मेरे पेट को चाटने लगा और उसके बाद मेरी नाभि को चाटने लगा. उसके बाद वो मेरी जांघों को चाटने लगा. वो धीरे धीरे करके मेरे पूरे जिस्म को चाट रहा था. मैं भी उसको किस करे जा रही थी. उधर वो मेरी जांघों को चाटने के बाद मेरी चूत को चाटने लगा. वो मेरी चूत को बहुत अच्छे से चाट रहा था.

मैंने उससे पूछा कि क्या तुमको चूत चाटने में ज्यादा मजा आता है?
उसने बताया कि हां मैं अपनी भाभी को चोदता आया हूँ.. मेरी भाभी ने ही मुझे चूत चूसना और चाटना सिखाया था.

मुझे उसके चूत चाटने का अंदाज बहुत पसंद आया. वो मेरी चूत को चाटने के बाद मुझे अपना लंड चूसने के लिए बोला. पहले तो मैं उसको मना करने लगी. वो कुछ नहीं बोला और मेरी चूत को चाटने लगा. उसके बाद उसने अपने लंड पर डॉटेड कंडोम लगा लिया. उसने लंड पर कंडोम लगा कर मेरी चूत में डाल दिया. उसने अपना लंड आधा ही मेरी चूत में डाला था, तो मुझे दर्द होने लगा. उसके लंड का टोपा बहुत मोटा था. मुझे बहुत दर्द हो रहा था, तो मुझे तड़फन हो रही थी.

उसने मुझे दर्द से कराहते हुए देखा, तो वो बोला कि जान कुछ देर झेल लो.. मैं धीरे धीरे चोदूंगा.

मैंने उसके लंड को झेल लिया और वो मुझे धीरे धीरे चोदने लगा. फिलहाल वो मुझे अपने आधे लंड से ही चोद रहा था. मैं सिसकारियां ले रही थी. आज मैं पहली बार अपने बॉयफ्रेंड से चुदवा रही थी. उसका लंड काफी मोटा और लम्बा था, जिस वजह से मैं दर्द से चिल्ला रही थी. वो मेरे दर्द को समझ तो रहा था लेकिन वो इस बात को जानता था कि एक बार लंड के एडजस्ट होते ही दर्द खत्म हो जाएगा. इसीलिए वो मुझे बिना रुके चोदे जा रहा था.

कुछ ही देर बाद हम दोनों लोग की चुदाई से पूरा रूम में आवाजें गूँज रही थीं. मेरी हालत ख़राब हो गई थी. मेरे बिस्तर की चादर भी ख़राब हो गई थी. इससे पहले जिस सोफे पर हम दोनों ने ओरल सेक्स किया था, उसका कवर भी ख़राब हो गया था.

दस मिनट की चुदाई में मुझे उसके साथ चुदने में मजा आने लगा और मेरा दर्द जाता रहा था. उसके मोटे लंड ने मेरी चूत में अपनी जगह बना ली थी.

अब हम दोनों लोग रूम में घूम घूम कर चुदाई का मजा ले रहे थे. वो कभी मुझे बिस्तर पर लिटा कर चोद रहा था, तो कभी सोफे पर घोड़ी बनाकर चोद रहा था. हम दोनों धकापेल सेक्स कर रहे थे और एक दूसरे को किस भी कर रहे थे.

हम दोनों चुदाई करते करते इतनी मदहोशी में डूब गए थे कि हम दोनों को ये भी पता नहीं चला कि शाम कब हो गयी.

वो तो मेरी निगाह दीवार पर लगी घड़ी पर चली गई, तब मुझे टाइम का अहसास हुआ. मेरी नौकरानी भी कुछ देर में आने वाली थी. हालांकि मैंने उसे कहा था कि वो मेरे फोन करने के बाद ही आए. जिस वजह से मैं कुछ ज्यादा चिंतित नहीं थी. तब भी मुझे उसका ध्यान रखना ही था.

उधर मैं उसके आने की सोच में डूबी थी और इधर अभी हम दोनों चुदाई में मस्त थे और अभी तक हम दोनों का पानी सिर्फ दो बार ही निकला था.

हम दोनों का दो बार की चुदाई से मन नहीं भरा था. लेकिन थक जाने के कारण हम बिस्तर पर लेट गए. वो मेरे ऊपर आकर चढ़ गया. कुछ पलों बाद ही चुदास फिर से चढ़ गई. उसने अपना पूरा लंड मेरी चूत में डाल दिया. अपना पूरा लंड मेरी चूत में डालने के बाद वो मेरी चूत को चोदने लगा.

करीब बीस मिनट तक हम दोनों चुदाई करते हुए झड़ गए और हम दोनों का पानी निकल गया.

वो मुझे चोदने के बाद मेरे ऊपर ही ढेर हो गया. कुछ देर तक हम ऐसे ही एक दूसरे के ऊपर पड़े रहे. उसके बाद मैंने उठा कर खुद को साफ़ किया और बिस्तर सोफे आदि को ठीक किया. अब तक वो भी बाथरूम में जाकर खुद को ठीक कर चुका था. मैं उसके लिए किचन में कॉफ़ी बनाने के लिए चली गयी. फिर हम दोनों ने साथ बैठ कर कॉफ़ी पी. उसके बाद मैंने अपने बॉयफ्रेंड को जाने के लिए बोला, तो वो मुझे किस करने के बाद अपने घर चला गया.

अब रास्ता खुल चुका था, सो हम दोनों को जब भी मौका मिलता था, तो सेक्स का मजा कर लेते थे. मेरी नौकरानी को इस बात का पता भी नहीं चलता था कि मैं अपने बॉयफ्रेंड को अपने घर बुलाकर चुदवाती हूँ. हम दोनों लोग सेक्स का खूब मजा लेते थे. आज भी हम मौका मिलते ही सेक्स कर लेते हैं.

हम दोनों को सप्ताह में एक बार सेक्स करने का मौका मिल जाता है. मेरे घर के सब लोग संडे को बाहर घूमने के लिए जाते हैं. उसी वक्त मैं अपने बॉयफ्रेंड को अपने घर बुलाकर उससे चुदवा लेती हूँ.

आप सबको मेरी ब्वॉयफ्रेंड के साथ चुदाई की कहानी कैसी लगी.
बॉयफ्रेंड ने घर आकर चोदा (Boyfriend Ne Ghar Akar Choda) बॉयफ्रेंड ने घर आकर चोदा (Boyfriend Ne Ghar Akar Choda) Reviewed by Priyanka Sharma on 1:19 PM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.